ट्रेंडिंगन्यूज़बड़ी खबर

Rahul Gandhi ने कहा-हम डरने वाले नहीं,BJP ने कहा- भ्रष्टाचार किया है तो ED से बचना मुश्किल

नई दिल्ली: नेशनल हेराल्ड मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अधिकारियों द्वारा नई दिल्ली स्थित हेराल्ड हाउस में ‘यंग इंडिया’ का दफ्तर सील और अन्य संपत्तियों पर कार्रवाई से कांग्रेसी बुरी तरह बौखलाये हुए हैं। कांग्रेस की चेयरपर्सन सोनिया गांधी व पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के बचाव के लिए अब कोई रास्ता नजर नहीं आ रहा है। इस पर वे भाजपा को कोसने में लग गये हैं।

हम डरने वाले नहीं हैं',नेशनल हेराल्ड केस में ED की छापेमारी पर बोले राहुल  गांधी - National Herald investigation by ED an intimidation tactics said rahul  gandhi ntc - AajTak
Rahul Gandhi said – we are not afraid, BJP said – it is difficult to avoid ED if you have done corruption

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मलिकार्जुन खडके ने ईडी की कार्रवाई को आतंकवादियों की तरह व्यवहार करने का आरोप लगाया है, जबकि भाजपा ने इस पर पलटवार करते हुए इसे भ्रष्टाचारियों के साथ किये जाने वाली कार्रवाई बताया है। उन्होंने कहा कि भाजपा कांग्रेस का खत्म करने की साजिश कर रही है। केन्द्र सरकार पूरे विपक्ष का समाप्त करना चाहती है। राहुल गांधी ने कहा कि वे डरने वाले नहीं हैं। उधर संबित पात्रा ने कहा कि ईडी अपना काम कर रही है, यदि सोनिया गांधी व राहुल ने कुछ गलत नहीं किया तो फिर वे डर क्यों रहे हैं। उन्होने कहा कि यदि उन्होने भ्रष्टाचार किया है तो उसका खामियाजा को भुगतना ही होगा।

ये भी पढ़े- EX MLA विजय मिश्रा के बेटे की निशानदेही पर पेट्रोल पंप से AK-47 सहित कारतूसों का जखीरा बरामद

भाजपा के प्रवक्ता गौरव भाटिया ने राहुल गांधी से कई सवालों को पूछते हुए उनसे जवाब मांगे हैं। देखना यह है कि राहुल उनका जवाब देते हैं, या फिर सवालों से दूर भागते हैं। भाजपा का साफ संदेश है कि भ्रष्टाचार और रण एक साथ नहीं हो सकते। कांग्रेस को इसका सामना करना ही होगा। इस मामले को लेकर कांग्रेस ने अपने सांसदों के साथ बैठक करके आगामी रणनीति पर चर्चा की है। हो सकता है कि आने वाले दिनों में कांग्रेस फिर से कथित सत्याग्रह के नाम पर सड़कों पर उतरे, लेकिन अब ईडी से लगातार शिंकजे कसने से कांग्रेस नेताओं का आत्म विश्वास कमजोर होता जा रहा है।   

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button